Published On: Sun, Sep 22nd, 2019

Com. Shiva Gopal Mishra advocated centenary shares for the share holders of N.Rly. Co-operative society

Share This
Tags

नार्दर्न रेलवे प्राइमरी मल्टीस्टेट कोआपरेटिव बैंक लि. का वार्षिक अधिवेशन, शेयर होल्डरों को जरूर मिले विशेष “शताब्दी शेयर” : शिवगोपाल मिश्रा

नार्दर्न रेलवे प्राइमरी कोआपरेटिव बैंक की 101 वीं वार्षिक अधिवेशन को संबोधित करते हुए आंल इंडिया रेलवे मेन्स फैडरेशन के महामंत्री शिव गोपाल मिश्रा ने कहाकि बैंक का लाभांस बढ़ा है, ये बैंक के लिए अच्छी बात हो सकती है, लेकिन मुझे खुशी कम होती है, क्योंकि जब में लाभांस का बटवारा देखता हूं तो वाकई निराशा होती है। महामंत्री ने कहाकि लाभांश के बडे हिस्से का बटवारा हर हाल में शेयरहोल्डरों में किया जाना चाहिए, इस काम में जो प्रयास होना चाहिए उसमें कुछ तो कमी है।
सहकारिता भवन में आयोजित वार्षिक अधिवेशन में महामंत्री शिवगोपाल मिश्रा ने कहाकि प्रबंध निदेशक विजय श्रीवास्तव की रिपोर्ट की मैं सराहना करता हूं, हर साल बैक तरक्की कर रहा है, बैंक का लाभांस लगातार बढ़ रहा है, आप लोग बैंक में आधुनिक सुविधाएं बेहतर कर रहे हैं । महामंत्री ने कहाकि मुझे याद है कि एक जमाने में लोन इसलिए नहीं मिल पाता था क्योंकि पन्ना फटा होता था। अब ये हालात नहीं है, बैंक का कम्प्यूटरीकरण किया गया है, सब ठीक है। इन सबके बाद भी मैं देखता हूं शेयर होल्डर में लाभांस का बटवारा जिस तरह से होना चाहिए, उसमें कुछ तो कमी है।
महामंत्री ने कहाकि पिछले साल बैंक के शताब्दी वर्ष में आपसे अपेक्षा की गई थी कि एक शताब्दी शेयर का ही बटवारा बैंक के शेयर होल्डर में कर दिया जाए, लेकिन आज तक ये काम नहीं हुआ। महामंत्री ने कहाकि मुझे उम्मीद है कि आज आप जब प्रबंधन की बैठक करेंगे, उसमें शताब्दी शेयर के बारे में जरूर फैसला करेंगे । महामंत्री ने सैलरी एकाउंट बैंक में खोले जाने का जिक्र करते हुए कहाकि नई योजना बनाने के पहले हमें ये सुनिश्चित करना होगा कि कहीं हम ज्यादा पैसा खर्च करके कम प्राफिट वाला काम तो अपने जिम्में नहीं ले ले रहे हैं। क्योंकि एकाउंट का मैनेज करना भी एक बहुत बड़ा काम है। महामंत्री कहाकि मुझे खुशी होगी जब आपकी रिपोर्ट में कहा जाएगा कि बैंक अपने शेयर होल्डर को 10 फीसदी डिवीडेंट देना वाला है।
बैंक में आउट आफ टर्न का जिक्र करते हुए महामंत्री ने कहाकि मैं व्यक्तिगत रूप से इस व्यवस्था के खिलाफ हूं, इमरजेंसी में जरूर विचार होना चाहिए। महामंत्री ने बैंककर्मियों के पेंशन के मामले जिक्र करते हुए कहाकि इस पर भी काम होना ही चाहिए, हम खुद भारतीय रेल में 2004 के बाद नियुक्त हुए लोगों के पेंशन की लड़ाई लड़ रहे हैं।
बैंक के सभापति राजेश चौबे ने कहाकि कई बार हम सब जो महत्वपूर्ण फैसले लेते हैं उसकी जानकारी नीचे तक नहीं पहुंच पाती है, इससे कर्मचारी इसका लाभ नहीं उठा पाते हैं। उन्होने कहाकि इस बार 10.56 करोड रुपये डिवीडेंट बांटने का काम होगा। श्री चौबे ने कहाकि जिन लोगों का सेलरी एकाउंट बैंक में होगा, उन्हें छोटे मोटे काम के लिए तीन लाख रुपये तक लोग मात्र पांच छह फीसदी ब्याज पर देने पर विचार किया जा रहा है, इससे लोगों को काफी राहत होगी। एनजेडआरई के चेयरमैन अजित सिंह ने बैंक रिपोर्ट की तारीफ की और कहाकि ये बैंक वाकई बेहतर काम कर रहा है, इसके लिए प्रबंधन के साथ सभी कर्मचारी बधाई के पात्र हैं।
केंद्रीय उपाध्यक्ष प्रवीना सिंह ने कहाकि वार्षिक अधिवेशन में यूनियन के शाखा सचिवों को भी बुलाया जाना चाहिए , इसके अलावा बैंक प्रबंधन में महिलाओं की भागेदारी को भी बढाना चाहिए। इस अधिवेशन को यूनियन के संरक्षक सिया राम वाजपेयी, मंडल मंत्री आर के पांडेय, केंद्रीय पदाधिकारी महेन्द्र चौबे ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन उपसभापति राकेश कनौजिया ने किया। अधिवेशन में मुख्य रूप से जोनल सेकेटरी एल एन पाठक, मंडल मंत्री उपेन्द्र सिंह, अरुण गोपाल मिश्रा, शैलेन्द्र सिंह, केंद्रीय उपाध्यक्ष एस यू शाह, आर ए मीना, कोषाध्यक्ष मनोज श्रीवास्तव समेत तमाम लोग मौजूद थे।

About the Author

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>