Published On: Tue, Oct 2nd, 2018

Annual General Meeting of NWREU held at Bikaner on 01-03, Oct 2018

Share This
Tags

Annual General Meeting of NWREU held at Ajmer under the leadership of Com. Mukesh Mathru/GS/NWREU. Com. Shiva Gopal Mishra/GS/AIRF attended the meeting as Chief Guest.

बीकानेर। नार्थ वेस्टर्न रेलवे एम्प्लाइज यूनियन का 16 वां अधिवेशन 1 अक्टूबर को बीकानेर में शुरू हुआ। यह अधिवेशन तीन अक्टूबर तक चलेगा। इसमें अजमेर बीकानेर जयपुर जोधपुर के करीब 2 हज़ार प्रतिनिधि भाग ले रहे है। अधिवेशन में रेल कर्मचारी नेता शिव गोपाल मिश्रा ने बताया कि रेलवे में ढाई लाख वेकेंसियां रिक्त है और प्रत्येक कर्मचारी को दो-दो आदमियों का काम करना पड़ रहा है और काफी मांगे लंबित चल रही है। यदि सरकार ने दिए गए नोटिस के अनुसार 45 दिन में मांगे नहीं मानी और रिक्तियां पूर्ती नहीं की तो रेल कर्मचारी नियम अनुसार कार्य करेंगे। यानी एक व्यक्ति एक ही व्यक्ति का कार्य करेगा दो व्यक्तियों का नहीं। इससे यह आशंका स्वाभाविक रूप से बनती है कि रेलों का संचालन प्रभावित हो सकता है।

आल इंडिया रेलवेमेन्स फेडरेशन के महामंत्री शिव गोपाल मिश्रा ने मीडिया से बातचीत मे रेल कर्मचारियों की मांगों, रिक्तियों और बनी हुई स्थितियों की विवेचना करते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने कर्मचारियों के साथ वादा खिलाफी की है। इसे कार्मिक कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे। नई पेंशन नीति पर उनका कहना था कि यह एक अभिशाप है। आरोप लगाया कि केंद्र सरकार के इशारे पर मान्यता प्राप्त ट्रेड यूनियन की शक्ति को कमजोर करने का कार्य हो रहा है। विभिन्न कैटेगरी में कार्यरत स्टाफ की अनेक मांगें लंबित चल रही है। मिश्रा ने चेतावनी देते कहा कि सरकार की हठधर्मिता जारी रही तो आंदोलन होगा। प्रेस वार्ता में महामंत्री मुकेश माथुर, मंडल सचिव अनिल व्यास, अध्यक्ष प्रमोद यादव, हरभजन सिंह आदि ने भी विचार रखे। नार्थ वेस्टर्न रेलवे एम्प्लाइज यूनियन का 16 वां अधिवेशन 1 अक्टूबर को बीकानेर में शुरू हुआ जो 3 अक्टूबर तक चलेगा। इसमें अजमेर बीकानेर जयपुर जोधपुर के करीब 2 हज़ार प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं।

About the Author

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>